ये है फेसबुक हैकिंग का आसान तरीका आप रहे सतर्क

ये है फेसबुक हैकिंग का आसान तरीका आप रहे सतर्क

अगर आप फेसबुक इस्तेमाल करते हैं तो फेसबुक हैकिंग का नाम सुन कर आपके कान खड़े हो जाते हैं. कई लोगों को हैकिंग का खतरा होता तो आपमें से कई ऐसे होंगे जो किसी न किसी का फैसबुक हैक करना चाहते हैं. कारण कई हो सकते हैं हम उसके बारे में बात नहीं करेंगे.
एक प्रोग्रामर ने फेसबुक अकाउंट हैक करने का आसान तरीका ढूंढा है या यों कहें कि बग की पहचान की है. यानी एक ऐसी खामी का पता लगाया है जिससे यूजर्स के पुराने फोन नंबर ढूंढ कर उसके अकाउंट में सेंध लगाई जा सकती है.
यह काफी आसान भी है, लेकिन इसके कई बंदिशें भी हैं. उदाहरण के तौर पर अगर आप फेसबुक का पासवर्ड भूल गए हैं, तो अपने फोन नंबर के जरिए पासवर्ड रीसेट कर सकते हैं. आपके नंबर पर एक कोड आता है जिसे दर्ज करके नया पासवर्ड बनाते हैं.
अगर आपका पुराना नंबर खरीद लेता है तो वो आपके फेसबुक अकाउंट का पासवर्ड भी रीसेट कर सकते है. लेकिन बंदीश ये है कि उस यूजर ने अगर पुराने नंबर को अपने फेसबुक से हटा लिया है यानी अनलिंक कर लिया है तो हैकिंग नहीं होगी.
प्रोग्रामर जेम्स मार्टिनडेल ने लिखा है कि फेसबुक आपको फोन नंबर लिंक करने के लए रिमाइंडर देता है. लेकिन आपसे ये नहीं कहता कि आप अपने नंबर को अपडेट करते रहें. यानी अब वो नंबर इस्तेमाल में नहीं है तो उसे हटा लें.
फेसबुक यूजर्स ने एक बार नंबर अपने अकाउंट से लिंक कर लिया तो संभव है वो नंबर चोरी होने या बंद होने के बाद नया नंबर अपडेट नहीं करेंगे. इसका फायदा हैकर्स आसानी से उठा सकते हैं.


जेम्स मार्टिनडेल ने ऐसा किया है इसमें उन्हें सफलता भी मिली है. उन्होंने एक नया सिम कार्ड खरीदा और उन्हें फेसबुक का एक मैसेज मिला. जबकि उन्होंने उस नंबर को फेसबुक से लिंक किया ही नहीं था.
जेम्स ने अपने ब्लॉग पोस्ट में लिखा है कि उन्हें ये पता था कि फोन नंबर से फेसबुक यूजर्स को सर्च किया जा सकता है.
फेसबुक में दिए गए सर्च बॉक्स में फोन नंबर दर्ज करके यूजरनेम पता कर सकते हैं. यहां से उन्होंने फेसबुक लॉग इन पेज पर यूजरनेम दर्ज करके कई गलत पासवर्ड लिखे. फॉर्गेट पासवर्ड का ऑप्शन मिलते ही रिकवरी कोड फोन पर भेजने का ऑप्शन मिलता है. यहीं से वो पुराने फोन नंबर के जरिए पासवर्ड रिसेट करने में कामयाब हुए.
उन्होंने अपने ब्लॉग पोस्ट में यह भी लिखा है कि वो अच्छे इंसान नहीं होते तो क्या कर सकते थे.
उनके मुताबिक ऐसा करके वो लाखों रुपये कमा सकते थे. ऐसा करने के लिए उन्हें अपने VoIP सर्विस प्रोवाइडर FreedomPop से अपना नंबर बदलना होता, जिसके लिए उनहें हर बार 5 डॉलर देने होते.
नंबर लेने के बाद वो लगातार इसे फेसबुक पर सर्च करते. इनमें से कई ऐसे अकाउंट जुड़े हुए मिलते. जो भी अकाउंट इन फोन नंबर से लिंक्ड हैं उन्हे वो आसानी से हैक कर सकते हैं. एक बार किसी यूजर का अकाउंट हैक करने के बाद उनके पास कई ऑप्शन होते. 
फेसबुक भी इसे नहीं कर सकता ठीक
उन्होंने इसके बारे में फेसबुक को बताया है. लेकिन फेसबुक का जवाब भी हैरान करने वाला है. उनका दावा है कि फेसबुक की तरफ से उन्हें मेल भेजी गई है जिसमें कहा गया है कि यह बग नहीं है और इसलिए इसे फेसबुक ठीक भी नहीं कर सकता है.
ऐसा इसलिए क्योंकि फेसबुक इस खामी को बग नहीं मानती और यह समस्या फेसबुक की नहीं बल्कि टेलीकॉम प्रोवाइडर की है. इस पर फेसबुक का कोई अख्तियार नहीं है कि टेलीकॉम कंपनी किसे कौन सा नंबर दें.
हमारी सलाह ही कि अगर आपने अपना पुराना नंबर अपने फेसबुक अकाउंट से लिंक कर रखा है तो उसे तत्काल हटा दें.

Agar aap ka koi bhi sabaal ya koi bhi dout hai to Comment jarur kare. hame ye jarur bataye ki aapko ye jaankari kaise lagi.

No comments:

Powered by Blogger.